Sahaaba Sahaaba Hamaare Sahaaba Hindi Lyrics

सिद्दीक़ की सदाक़त, ज़िंदाबाद  ज़िंदाबाद
फ़ारूक़ की अदालत, ज़िंदाबाद  ज़िंदाबाद
उस्मान की सख़ावत, ज़िंदाबाद  ज़िंदाबाद
हैदर की शुजाअत, ज़िंदाबाद  ज़िंदाबाद

सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा
सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा

ख़ुदा के हैं प्यारे हमारे सहाबा
नबी चाँद हैं और सितारे सहाबा

सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा
सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा

हुब्ब-ए-सहाबा ज़िंदाबाद
बुग़्ज़-ए-सहाबा मुर्दाबाद

सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा
सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा

सहाबा की अज़मत पे मरते रहेंगे
है जीने का मक़सद दिफ़ा-ए-सहाबा

सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा
सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा

इताअ’त करोगे, हिदायत मिलेगी
हिदायत के तारे हमारे सहाबा

हुब्ब-ए-सहाबा ज़िंदाबाद
बुग़्ज़-ए-सहाबा मुर्दाबाद

सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा
सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा

सहाबा के शातिम पे लानत ख़ुदा की
सभी जन्नती हैं हमारे सहाबा

सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा
सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा

हम आल-ए-नबी और सहाबा के आशिक़
तमाम अहल-ए-बैत और सारे सहाबा

सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा
सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा

सहाबा के ग़ुस्ताखों ! अंजाम सोचो
पड़ेगी तुम्हें जब मार-ए-सहाबा

सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा
सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा

है मेयार-ए-ईमान-ए-कामिल उजागर
ख़ुदा की क़सम ! है हमारे सहाबा

सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा
सहाबा सहाबा, हमारे सहाबा

जो सहाबा का नहीं, वो हमारा नहीं
जो सहाबा का नहीं, वो हमारा नहीं

शायर:
अल्लामा निसार अली उजागर

नातख्वां:
ग़ुलाम मुस्तफ़ा क़ादरी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.