HINDI NAAT LYRICS

HINDI NAAT LYRICS

अजब रंग पर है बहारे मदीना

अजमेर का सफर अब मुझको अता हो ख्वाजा

अजमेर चल के देखो रुत्बा अली के घर का Lyrics

अजमेर मेरी मंजिल बगदाद है ठिकाना Naat Lyrics

अब मैरी निगाहों में जचता नहीं कोई

अब्रे करम गेसुए मुहम्मद

अमीना बीबी के गुलशन में आई है ताजा बहार

अलवदा अलवदा माहे रमजान अलवदा

अली अली अली मौला Naat Lyrics

अली नूं याद करो

अली मौला अली मौला

अली वाले जहा बैठे वहीं जन्नत बना बैठे

अली वाले जहा बैठे वहीं जन्नत बना बैठे

अल्लाह अल्लाह उनका करम देखना

अल्लाह अल्लाह उनका करम देखना

अल्लाह अल्लाह शहे कोनैन जलालत तेरी

अल्लाह अल्लाह शहे कोनैन जलालत तेरी

अल्लाह की सर ता ब क़दम शान है ये

अल्लाह की सर ता ब क़दम शान है ये

अल्लाह ने पहुंचाया सरकार के कदमों में

अल्लाह ने पहुंचाया सरकार के कदमों में

अल्लाह मेरा दहर में आला मकाम हो

अल्लाह मेरा दहर में आला मकाम हो

अहमद रजा का ताजा गुलिस्तां हे आज भी

आंखे पुर नूर करूं देख के चेहरा तेरा

आंखे भिगो के दिल को हिलाकर चले गए

आंखे रो रो के सुजाने वाले

आंखो का तारा नामे मुहम्मद दिल का उजाला नामे मुहम्मद

आंसियो को दर तुमहारा मिल गया

आई लव यू आक़ा आई लव यू आक़ा

आओ नबी की शान सुनो

आख़री उम्र में क्या रौनके-दुनियां देखूं

आने वालों ये तो बताओ शहर मदीना कैसा है

आमदे मुस्तफा से हे फूला फला चमन चमन

आमाल नहीं कुछ भी ये हाल हमारा है

आया रमजान का महीना काफिला चला सूए मदीना

आये आका मदनी आका

इस करम का करूँ शुक्र कैसे अदा Lyrics

उनकी जामे-जम आंखें, शीशा-ए-बदन मेरा

ए इश्के नबी मेरे दिल में भी समा जाना

ए मौला एक बार दिखा दे जलवा नूर वाले का

ए शहेनशाहे मदीना अस्सलातो वस्सलाम

एक ख़्वाब सुणावां पुरनूर फ़िज़ावां

कभी उन का नाम लेना कभी उन की बात करना

कल्बे आशिक हुआ पारा पारा

क़ादरी आस्ताना सलामत रहे

क़िस्मत मेरी चमकाईये

कुर्सी पर कोई भी बेठे

ख़ैरात लेने आ गए मंगते तुम्हारे ख़्वाजा

गली गली सज गई शहर शहर सज गया

चमक तुझ से पाते हैं सब पाने वाले

चलो दियारे-नबी की जानिब दुरूद लब पर सजा सजा कर

छोड़ फ़िक्र दुनियां की

जब तक जियूं मैं आक़ा कोई ग़म न पास आए

ज़माने की निग़ाहों में वो रुस्वा हो नहीं सकता

ज़माने की निग़ाहों में वो रुस्वा हो नहीं सकता

ज़माने में अगर देखी तो शाने-क़ादरी देखी Lyrics

ज़र्रे झड़ कर तेरी पैज़ारों के

जिंदगी का हासिल है आरजू मदीने की

ज़िक्रे-आक़ा से सीना सजा है

टुकड़े किये क़मर के तो सुरज फिरा दिया Lyrics

ताजदारे-ह़रम ऐ शहन्शाहे-दीं

तुझे रब ने क्या बनाया मक्का-मदीने वाले

तू शाहे-खूबाँ तू जाने-जानां Naat Lyrics

तू ही तू बस तू ही तू

तेरा वस्फ़ बयां हो किससे

दर-ए-नबी पर ये उम्र बीते Naat Lyrics

दस बीवी की कहानी,नूर नामा,16 सय्यदों की कहानियां पढना या ओरतों को मिल कर पढना शरीअत में नाजाइज़ है…

दुरूद पड़ते हुवे जब भी इब्तिदा की है Lyrics

नज़र से जाम पिलाना हुजूर जानते है

फूल भी मुस्कुराने लगा है

बातिल ने जब जब बदले हैं तेवर

बुलालो फिर मुझे ऐ शाहे-बहरोबर मदीने में

बे तलब भीक यहाँ मिलती है आते जाते

बे तलब भीक यहाँ मिलती है आते जाते

भर दो झोली मेरी ताजदारे-मदीना

भर दो झोली या ख़्वाजा

मदीना छोड़ कर अब उनका दीवाना न जाएगा

मरने की है तमन्ना ना जीने की आरजू

मरहबा मरहबा मरहबा मुस्तफ़ा

माह-ए-रमज़ां माह-ए-रमज़ां Naat Lyrics

मीठा मीठा मेरे मुहम्मद का नाम Naat Lyrics

मीरां वलीयों के इमाम

मुनव्वर मेरी आँखों को Naat Lyrics

मे काबे को देखुंगा

मेरा मेरा मेरा नबी है

मेरा मेरा मेरा नबी है Naat Lyrics

मैं मदीने चला मैं मदीने चला

मौला या स़ल्ली व सल्लिम दाइमन अबदन

या नबी नज़रे करम फरमाना

वारी जाऊँ सदक़े जाऊँ मुर्शिदी अत्तार पर

वोह सूए लालाज़ार फिरते हैं

शमशीर करबला में उठाई हुसैन ने

शाहे हिन्दल वली तुम हो ख्वाजा

शाहे-मर्दां, शेरे-यज़दां क़ुव्वते-परवरदिगार

सभी खुश है खुदाई भी खुदा भी

सर से लेकर क़दम तक है वो मोजज़ा Lyrics

हबीब प्यारा नज़र उठाए Naat Lyrics

हम अपने नबी पाक से यूँ प्यार करेंगे

हम को बुलाना या रसूलल्लाह

हम ख्वाजा वाले है

हश्र में फिर मिलेंगे मेरे दोस्तों

हाज़िर हैं तेरे दरबार में हम

हाल-ए-दिल किस को सुनाएं

  • नात लिरिक्स