Ahle Sirat Rooh E Amin Ko Khabar Karen Lyrics in Hindi

अहले सिरात रूहे अमी को खबर करें
जाती हे उम्मते नबवी फर्श पर करें

इन फितनाहाए हश्र से कह दो हजर करें
नाजो के पाले आते है रह से गुजर करें

बद है तो आप के है भले है तो आप के
टुकडों से तो यहां के पले रुख किधर करें

सरकार हम कमीनो के अतवार पर ना जाए
आका हुजूर अपने करम पर नजर करे

उन की हरम के खार कशीदा है किस लिये
आंखों में आएं सर पे रहें दिल मे घर करें

जालों पे जाल पड़ गए लिल्लाह वकत है
मुश्किल कुशाई आप के नाखुन अगर करें

मन्जिल कड़ी है शाने तबस्सुम करम करें
तारों की छाठं नूर के तड़के सफर करें

किलके रजा है खंजरे खूंखार बरक बार
आदा से केहदो खैर मनाएं ना शर करें

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.