Ab To Bas Ek Hi Dhun Hai Ke Madina Dekhoon Lyrics

 

Aakhri Waqt Me KIya Ronaq E Duniya Dekhoon

Ab To Bas Ek Hi Dhun Hai Ke Madina Dekhoon

 

Isne Bhi Madina Dekh Liyaa Usne Bhi Madina Dekh Liyaa

Sarkar Kabhi Toh Me Bhi Kahu Me Ne Bhi Madina Dekh Liyaa

Ab To Bas Ek Hi Dhun Hai Ke Madina Dekhoon

 

Menu Majburiya Ne Dooriya Ne Maare Aa

Sadh Lo Madine Aaqa Karu Meherbaniyan

 

Thu Saan Te Hai Dera Me Toh Badi Door Aa Gaya

Sad Lo Madine Aaqaa Karo Maherbaniyan

Ab To Bas Ek Hi Dhun Hai Ke Madina Dekhoon

 

Phir Karam Ho Gaya Me Madine Chala

Jhoomta Jhoomta Me Madine Chala

 

Saakiya Meh Pila Me Madine Chala

Mast O Bekhud Bana Me Madina Chala

 

Mere Aaqa Ka Dar Hoga Peshe Nazar

Chahiye Aur Kya Me Madine Chale

Ab To Bas Ek Hi Dhun Hai Ke Madina Dekhoon

 

Ek Roz Hoga Jana Sarkar Ki Gali Me

Hoga Wahi Thikana Sarkar Ki Gali Me

Ab To Bas Ek Hi Dhun Hai Ke Madina Dekhoon

 

Teri Jaliyon Ke Niche Teri Rehmato Ke Saaye

Jise Dekh Ni Ho Jannat Woh Madina Dekh Aaye

Ab Toh Bas Ek Hi Dhun Hai Ke Madina Dekhoon

 

Mere Maula Meri Aankhe Mujhe Wapas Karde

Taake Iss Bar Me Jeebhar Ke Madina Dekhoon

Ab To Bas Ek Hi Dhun Hai Ke Madina Dekhoon

 

Bulalo Phir Mujhe Aye Shah E Bahrobar Madine Me

Me Phir Rota Huwa Aau Tera Dar Par Madine Me

 

Madine Jaane Waalo Jaao Jaao Fi Aman’illah

Kabhi Toh Apna Bhi Lag Jayega  Bistar Madine Me

 

आखरी उमर में किया रोनके दुनिया देखूं
अब तो बस एक ही धुन हे के मदीना देखुं

रूबरू रोजाए सरकार के महफ़िले नात
काश तैयबा हसीं ऐसा जमाना देखूं

अब तो बस एक ही धुन हे के मदीना देखूं

सायिले दर को शहंशाहे जमाना करदे
शाहे तैयबा का वोह अंदाजे शाहाना देखूं

अब तो बस एक ही धुन हे के मदीना देखूं

सजदाए सर में करूं काबे की अजमत के लिए
सजदाए दिल के लिए काबे का काबा देखूं

अब तो बस एक ही धुन हे के मदीना देखूं

उनके दरबार में कुछ हमको मिले एयसी अता
आेज पर अपने मुकद्दर का सितारा देखूं

अब तो बस एक ही धुन हे के मदीना देखूं

या नबी करदो मेरे दिल को सभी जंग से पाक
वस्ल की रात को में दिल का चमकना देखूं

अब तो बस एक ही धुन हे के मदीना देखूं

सदकाए आले नबी हमको मिले आजकी शब
गुलशने ज़हरह का रंगीन नज़ारा देखूं

अब तो बस एक ही धुन हे के मदीना देखूं

मालो जर पास नहीं और ना पर है मेरे
बड़ा मुश्किल है के में जाके मदिना देखूं

अब तो बस एक ही धुन हे के मदीना देखूं

साबिर चिश्ती तड़प दिल में यूं करले पैदा
आंख जो बंद करूं पियारा मदीना देखूं

अब तो बस एक ही धुन हे के मदीना देखूं

यूं तो इस वक़्त भी आंखों में हे रोज़ा तेरा
और वहीं शान से में जान का जाना देखूं

अब तो बस एक ही धुन हे के मदीना देखूं

 

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.