ख़ैरात लेने आ गए मंगते तुम्हारे ख़्वाजा

 

ख़ैरात लेने आ गए मंगते तुम्हारे ख़्वाजा
भर दीजिए दामन मुरादों से हमारे ख़्वाजा

मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया
मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया

मंगतों की रखले लाज कर दे सब मुरादें पूरी
दामन पसारे आ गए तेरे द्वारे ख़्वाजा

ख़ैरात लेने आ गए मंगते तुम्हारे ख़्वाजा
भर दीजिए दामन मुरादों से हमारे ख़्वाजा

मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया
मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया

मायूस जाता ही नहीं कोई तुम्हारे दर से
हमको भी दे हसनैन के सर के उतारे ख़्वाजा

ख़ैरात लेने आ गए मंगते तुम्हारे ख़्वाजा
भर दीजिए दामन मुरादों से हमारे ख़्वाजा

मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया
मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया

तूने मदद की, हां मदद की, हां मदद की तूने
कुरबां तेरे जब भी तड़प कर हम पुकारे ख़्वाजा

ख़ैरात लेने आ गए मंगते तुम्हारे ख़्वाजा
भर दीजिए दामन मुरादों से हमारे ख़्वाजा

मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया
मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया

अजमेर का दरबार दिखला, के सुनाऊं आकर
रो रो के हाले-दिल मेरा तेरे द्वारे ख़्वाजा

ख़ैरात लेने आ गए मंगते तुम्हारे ख़्वाजा
भर दीजिए दामन मुरादों से हमारे ख़्वाजा

मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया
मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया

देता हूँ तुझको वास्ता ग़ौसुलवरा का मुझको
फिर मस्जिदे-नबवी के दिखलादे मिनारे ख़्वाजा

ख़ैरात लेने आ गए मंगते तुम्हारे ख़्वाजा
भर दीजिए दामन मुरादों से हमारे ख़्वाजा

मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया
मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया

ये जगमगाता, नूर बरसाता तुम्हारा रोज़ा
शर्मा गए हैं इसके आगे चाँद-तारे ख़्वाजा

ख़ैरात लेने आ गए मंगते तुम्हारे ख़्वाजा
भर दीजिए दामन मुरादों से हमारे ख़्वाजा

मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया
मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया

हसरत उबैदे-क़ादरी को दीद की है मुर्शिद
लिल्लाह निकाबे-रुख़ उठादे प्यारे प्यारे ख़्वाजा

ख़ैरात लेने आ गए मंगते तुम्हारे ख़्वाजा
भर दीजिए दामन मुरादों से हमारे ख़्वाजा

मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया
मेरे ख़्वाजा पिया, मेरे ख़्वाजा पिया

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.