तुझे रब ने क्या बनाया मक्का-मदीने वाले

 

तुझे रब ने क्या बनाया मक्का-मदीने वाले
ये कोई समझ न पाया मक्का-मदीने वाले

मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले
मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले

तेरा फैज़े-आम जारी, तेरी ज़िन्दगी निराली
तुझे हर वली में पाया, मक्का-मदीने वाले

मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले
मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले

कहा सब ने नफ्सि-नफ्सि, तेरे लब पे रब्बे-हब्ली
तेरे पाये का न पाया, मक्का-मदीने वाले

मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले
मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले

न कोई बता सका है, न कोई बता सकेगा
तुझे रब ने कब बनाया, मक्का-मदीने वाले

मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले
मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले

है दुआ-ए-अहले-सुन्नत के जहांने-रंगो-बू में
रहे सय्यदो का साया, मक्का-मदीने वाले

मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले
मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले

सवा लाख अम्बिया हो या हज़ारो हूरो-ग़िल्मां
तेरा गीत सब ने गाया, मक्का-मदीने वाले

मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले
मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले

ये सभी का है अक़ीदा के ब-क़ौले आला हज़रत
तुझे यक ने यक बनाया, मक्का मदीने वाले

मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले
मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले

बड़े काम की वो निकली तेरी प्यारी प्यारी कमली
सरे-हश्र जब छुपाया, मक्का-मदीने वाले

मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले
मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले

ये है फ़ातिमा का सदक़ा मैं तेरे नसब का हिस्सा
मुझे हाश्मी बनाया, मक्का-मदीने वाले

मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले
मक्का-मदीने वाले, मक्का-मदीने वाले

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.