आंखो का तारा नामे मुहम्मद दिल का उजाला नामे मुहम्मद

आंखो का तारा नामे मुहम्मद दिल का उजाला नामे मुहम्मद

अल्लाहु अकबर रब्बुल उला ने
हर शै पे लिखा नामे मुहम्मद

दौलत जो चाहो दोनो जहां की
करलो वजीफा नामे मुहम्मद

शैदा ना कियू हो उस पर मुसलमां
रब को है पियारा नामे मुहम्मद

अल्लाह वाला दम में बनादे
अल्लाह वाला नामे मुहम्मद

सल्ले अला का सेहरा सजा कर
दूल्हा बनाया नामे मुहम्मद

नुहो खालिलो मूसा व इसा
सब का हे आका नामे मुहम्मद

सारे चमन में लाखों गुलो में
गुल हे हजारा नामे मुहम्मद

पायी मुरादे दोनों जहां में
जिस ने पुकारा नामे मुहम्मद

मोमिन को कियू हो खतरा कहीं पर
दिल पर हे कंदा नामे मुहम्मद

पड़ती दुरूदे दौड़ेगी हुरें
ला शा जो लेगा नामे मुहम्मद

रोज़े कियामत मिज़ानो पुल पर
देगा सहारा नामे मुहम्मद

गम की घटाएं छाई हे सर पर
करदे इशारा नामे मुहम्मद

रंजो अलम में हे नाम लेवा
द करदे इशारा नामे मुहम्मद

बेड़ा तबाही में आ गया है
दे दे सहारा नामे मुहम्मद

ज़ख्मी जिगर पर मजरूह दिल पर
मरहम लगा जा नामे मुहम्मद

दिल में अदावत खर के भरी हे
नकदी ना लेगा नामे मुहम्मद

अपने रजा पर कुर्बान जाऊं
जिस ने सिखाया नामे मुहम्मद

%d bloggers like this: